Search
Close this search box.

रक्षा मंत्रालय ने 802 करोड़ रूपये के दो खरीद समझौतों पर हस्ताक्षर किये

नई दिल्ली, 04 जनवरी (वि सं )। रक्षा मंत्रालय ने सैन्य उपकरणों की खरीद के लिए निजी क्षेत्र की कंपनियों के साथ ज्यूपिटर वैगन्स लिमिटेड और बीईएमएल लिमिटेड के साथ 802 करोड़ रूपये की लागत के दो समझौतों पर हस्ताक्षर किये हैं। मंत्रालय ने 697 बोगी ओपन मिलिट्री (बीओएम) वैगनों की खरीद के लिए ज्यूपिटर वैगन्स लिमिटेड के साथ 473 करोड़ रूपये तथा 56 मैकेनिकल माइनफील्ड मार्किंग इक्विपमेंट (एमएमएमई) मार्क दो की खरीद के लिए बीईएमएल लिमिटेड के साथ 329 करोड़ रूपये अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। यह खरीद (भारतीय-आईडीडीएम) श्रेणी के तहत की जायेंगी। इसके लिए ये कंपनियां स्वदेशी इकाईयों से सैन्य उपकरणों और उप-प्रणाली खरीदेंगी जिससे आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को साकार करते हुए स्वदेशी विनिर्माण और रक्षा उत्पादन में निजी क्षेत्र की भागीदारी को बढ़ावा मिलेगा।

रिसर्च डिज़ाइन एंड स्टैंडर्ड ऑर्गनाइजेशन (आरडीएसओ) द्वारा डिजाइन बोगी ओपन मिलिट्री (बीओएम) वैगन, भारतीय सेना द्वारा सैन्य इकाइयों को संगठित करने के लिए उपयोग किए जाने वाले वैगन हैं। बीओएम वैगनों का उपयोग हल्के वाहनों, आर्टिलरी गन, बीएमपी, इंजीनियरिंग उपकरण आदि को उनके परिचालन क्षेत्रों तक ले जाने के लिए किया जाता है। यह क्रिटिकल रोलिंग स्टॉक किसी भी संघर्ष की स्थिति के दौरान इकाइयों और उपकरणों को परिचालन क्षेत्रों में त्वरित और एक साथ शामिल करना सुनिश्चित करेगा।

GAGAN PAWAR
Author: GAGAN PAWAR

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज