Search
Close this search box.

सूर्य नमस्कार के लाभ

सूर्य नमस्कार शरीर और मन के समन्वय के साथ 12 चरणों में किए गए 8 आसनों का एक सेट है। यह सुबह (सूर्योदय) में किया जाता है। सूर्य नमस्कार एक आध्यात्मिक अभ्यास है, जिसमें आसन, प्राणायाम और ध्यान तकनीक शामिल हैं। सूर्य नमस्कार के प्रत्येक चरण का अपना एक मंत्र है और शरीर की महत्वपूर्ण ऊर्जा (प्रणाम) पर इसका सीधा महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। सूर्य नमस्कार का नियमित अभ्यास करने से मानसिक और शारीरिक दोनों क्षेत्रों में संतुलित ऊर्जा प्रणाली बनती है। यह अनुक्रम एकाग्रता और मन की स्थिरता को विकसित करने के अलावा मांसपेशियों और अंगों को उत्तेजित करता है।

GAGAN PAWAR
Author: GAGAN PAWAR

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज