Search
Close this search box.

मुंबई में अपहृत की गई लड़की पश्चिम बंगाल में मिली, देह व्यापार में धकेली गई थी

मुबंई, 29 दिसंबर (वि सं )। मुंबई से कथित तौर पर अपहृत कर पश्चिम बंगाल में देह व्यापार में धकेल दी गई 17 वर्षीय लड़की को पुलिस ने मुक्त करा लिया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि शहर की धारावी पुलिस ने अपराध में कथित संलिप्तता के लिए बिहार के चंपारण निवासी कुणाल पांडे (30) और सिकंदर शेख को गिरफ्तार किया है।

उनके अनुसार, इस लड़की को मुक्त कराने के साथ ही धारावी पुलिस ने 2023 में लापता हुए सभी बच्चों के मामले सुलझा लिए और 35 लड़कियों को उनके परिवार के पास पहुंचा दिया। अधिकारी ने बताया कि वर्तमान मामले में लड़की सितंबर माह में धारावी स्थित अपने आवास से लापता हो गई थी। लड़की के पिता की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया था।

उन्होंने बताया कि लड़की के पश्चिम बंगाल के पांजीपाड़ा में होने की जानकारी मिलने के बाद धारावी पुलिस वहां गई और देह व्यापार में धकेल दी गई लड़की को मुक्त कराया। आरोपियों के खिलाफ बलात्कार तथा बच्चों का यौन अपराधों से संरक्षण कानून की प्रासंगिक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

एक अन्य मामले में, अपना घर छोड़कर ट्रेन से पटना जा रही 14 वर्षीय एक लड़की को पुलिस ने रोका और उसके माता पिता के सुपुर्द कर दिया। बृहस्पतिवार को लड़़की के अपरहण की शिकायत पुलिस में दर्ज की गई थी, जिसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की और पाया कि लड़की लोकमान्य तिलक टर्मिनस से पटना जाने वाली ट्रेन में चढ़ी। अधिकारी ने बताया कि मुंबई पुलिस ने राजकीय रेलवे पुलिस, औरंगाबाद को सतर्क किया और लड़की को रावेर रेलवे स्टेशन पर हिरासत में लेने के बाद उसके शहर वापस लाया गया।

GAGAN PAWAR
Author: GAGAN PAWAR

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज